Saturday, December 16, 2017
Home Tags SHAHEED

Tag: SHAHEED

बढ़ गया रंग रूप , कोई न दिखे कुरूप,

बढ़ गया रंग रूप , कोई न दिखे कुरूप, अब तो मोबाइल से, बनते महान है ! बदली है भेष भूषा, भाये न अब मंजूषा, होकर आजाद अब करते गुमान है...

बच्चे के सिर से बहुत खून बह गया है

" बच्चे के सिर से बहुत खून बह गया है,आप जल्दी से जल्दी दो बोतल खून की व्यवस्था कर लीजिए। अस्पताल में बच्चे के...

प्रीत हमसे तो लगाकर देखिये  रूह में हमको समाकर देखिये I

प्रीत हमसे तो लगाकर देखिये रूह में हमको समाकर देखिये ! सुरमयी हर शाम होगी आपकी गीत प्यारा गुनगुनाकर देखिये ! झांककर दिल में ज़रा देखो सनम कौन आया...

मन की बात आपके साथ

आज प्रस्तुत है मन की बात आपके साथ ।न मँझी लेखिका हूँ न बनाबट से लिखती हूँ। नही आते छंद ।न दोहा ,चौपाई में...

Reformation-: Bhagat Singh’s Desire.

  “This is not the India that Bhagat Singh wanted. Though we got freedom, it was only for a few influential families. The common man...

भगत सिंह का भारत

उसे यह फ़िक्र है हरदम, नया तर्जे-जफ़ा क्या है? हमें यह शौक देखें, सितम की इंतहा क्या है? ये पंक्तियाँ किसी कवि, शायर या साहित्यकार के द्वारा नहीं...

शहीदे आज़म तुझे सलाम

आज शहीदे आज़म सरदार भगत सिंह का जन्मदिवस हे | भगत सिंह की युवाओ के प्रेरणा स्तोत्र हे | 28 सितम्बर 1907 को सरदार...

EDITOR PICKS